जुदाई स्टेटस


रेत पर ला के मछलियाँ रख दो…. तुम बिन मैं कैसा हूँ जान जाओगे।


बेवफा वक्त था… तुम थे… या मुकद्दर था मेरा…… बात इतनी ही है की अंजाम जुदाई निकला


दर्द होता है उससे बिछड़ के ये बात… मोहब्बत नहीं जानती दिल टूट जाता है… उससे बिछड़ के ये बात जुदाई नहीं जानती है….. जनम जनम तक साथ तुम्हारा ये बात रुसवाई नहीं जानती….


किसी से जुदा होना इतना आसान होता तो….. रूह को जिस्म से लेने फिरश्ते नहीं आते।।।


उस शख्स को बिछड़ने का सलीका नहीं आता… जाते-जाते खुद को मेरे पास छोड़ गया।।


एक दिन हम आपसे इतने दूर हो जायेंगे… के आसमान के इन तारों में कही खों जायेंगे…. आज मेरी परवाह नहीं आपको… पर देखना एक दिन हद से ज्यादा,… हम आपको याद आयेंगे।।।


कुछ पल में जिंदगी की तस्वीर बन जाती है…. कुछ पल में जिंदगी की तकदीर बदल जाती है…. किसी को पाकर कभी खोना मत मेरे दोस्तों… क्यूँकि एक जूदाई से पूरी जिंदगी बिखर जाती है।।।