नयी सोच


हाथों की लकीरों पर ज़्यादा विश्वास नहीं किया करो
क्यूंकि नसीब उनका भी होता है जिनके हाथ नहीं होते।


खोटा सिक्का जो समझते थे मुझे
आज मैं उनका ध्यान तोड़ आया हूँ,
जिंदगी की राहों में सफ़र लम्बा था मेरा
इसलिए क़दमों के निशान छोड़ आया हूँ।


ऊँचे ख्वाबों के लिए
दिल की गहराई से काम करना पड़ता है,
यूँ ही नहीं मिलती सफलता किसी को
मेहनत की आग में दिन रात जलना पड़ता है।


चले हैं जिस सफ़र पर उसका कोई अंजाम तो होगा
जो हौंसला दे सके ऐसा कोई जाम तो होगा,
जो दिल में ठान ही ली है कामयाबी को अपना बनाने की
तो कोई न कोई इंतजाम तो होगा।



वो जो शोर मचाते हैं भीड़ में
भीड़ ही बनकर रह जाते हैं,
वही पाते हैं जिंदगी में सफलता
जो ख़ामोशी से अपना काम कर जाते हैं।


बुलंद हो होंसला तो मुठी में हर मुकाम है,
मुश्किले और मुसीबते तो ज़िंदगी में आम है,
सफलता पानी होतो हो तो ताकत रखो बाज़ुओ
में लहरो के खिलाफ तैरने कि,
क्योकि लहरो के साथ बहना तो लाशो का काम है!!


यूँ ही हर कदम पर मत लड़खड़ाओ
सफलता पानी है तो संभल जाओ,
मत शोर करो अपने प्रयासों का
ख़ामोशी से अपनी जिंदगी बदल जाओ।


जिंदगी में कुछ पाना हो तो खुद पर ऐतबार रखना
सोच पक्की और क़दमों में रफ़्तार रखना
सफलता मिल जाएगी एक दिन निश्चित ही तुम्हें
बस खुद को आगे बढ़ने के लिए तैयार रखना।


तारों में अकेला चाँद जगमगाता है
मुश्किलों में अकेला इंसान डगमगाता है
काटों से घबराना मत मेरे दोस्त
क्योंकि काटों में ही अकेला गुलाब मुस्कुराता है!!


अगर आप जीत गए तो आप खुश हो जाओगे और हार गए तो समझदार।



अपने दोस्तों को समझकर चुनो , तुम वही बन जाओगे जैसे तुम्हरे दोस्त है।



जब तक हम किसी भी काम को करने की कोशिश नही करते हैं, जब तक हमे वो काम नामुमकिन ही लगता है।



जब तक हम किसी भी काम को करने की कोशिश नही करते हैं, जब तक हमे वो काम नामुमकिन ही लगता है।



लहरों को शांत देख कर ये न समझना की समंदर में रवानी नहीं है.. जब भी उठेंगे तूफान बन के उठेंगे.. अभी उठने की ठानी नहीं है।



मैं बड़ो कि इज़्जत इसलिए करता हु, क्यूंकि उनकी अच्छाइया मुझसे ज़्यादा है। और छोटो से प्यार इसलिए करता हु, क्यूंकि उनके गुनाह मुझसे कम है।



उठाना खुद ही पड़ता है थका टुटा बदन अपना, की जब तक साँसे चलती है कन्धा कोई नही देता।



मुस्कुराना तो मेरी शख्सियत का एक हिस्सा है दोस्तों, तुम मुझे खुश समझ कर दुआओ में भूल मत जाना।



जिंदगी हमेशा एक नया मौका देती है… सरल शब्दों में उसे ‘कल’ कहते हैं !!



हो सकता है हर दिन अच्छा ना हो, लेकिन हर दिने में कुछ न कुछ अच्छा होता है।



भाग्य को और दूसरों को दोष क्यों देना,,, जब सपने हमारे हैं तो कोशिशें भी हमारी होनी चाहिए।



जब जेब में रुपये हो तो दुनिया आपकी औकात देखती है, और जब जेब में रुपये न हो तो दुनिया अपनी औकात दिखाती है।



मजा आता है किस्मत से लड़ने में, किस्मत आगे बढ़ने नहीं देती और मुझे रुकना आता नहीं।



घर के दरवाजे बड़े करवा लिए है मैंने, कुछ दोस्तों का कद बड़ा हो गया चार पैसे कमाकर।


जिस दिन आपने अपनी सोच बड़ी कर ली, बड़े बड़े लोग आपके बारे मे सोचना शुरू कर देंगे।



क्यों हम फिर अलग होके यहाँ नफरत को बो रहे हैं, हासिल नहीं कुछ होता, बस अपनों को खो रहे हैं।


वक़्त की कीमत कोई उस अख़बार से पूछे,
दिन बीत जाने के बाद जिसकी कोई कीमत नहीं होती।



बुरे हैं ह़म तभी तो ज़ी रहे हैं.. अच्छे होते तो द़ुनिया ज़ीने नही देती।






One Reply to “नयी सोच”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *